www.poetrytadka.com

Bewafa Shayari

Hi friends, you are looking for bewafa shayari in Hindi for social sharing sites like whatspp, Facebook, and Twitter. Be with Poetry Tadk bewafa shayari and the latest shayari for bewafi in Hindi. Hello, we understand you are depressed and are looking for Sad Bewafa Shayari in Hindi for your loved one. So go below and read the latest Bewafa Shayari for girlfriend and boyfriend in Hindi.

Sad Bewafa Shayari in Hindi

Sad Bewafa Shayari in Hindi

करके वादा मुकर गया आखिर,
तू भी दिल से उतर गया आखिर
Karke wada mukar gaya aakhir,
Too bhi dil se utra gaya aakhir.

अपने गुरूर को आजमाने की जिद थी.
वरना हमें मालूम था की तुम बेवफा हो जाओगे.
Apne guroor ko azmane ki zid thi,
Warna hame bhi maloom tha ki tum bewafa ho jaoge.

ज़िन्दगी छीन ली गई मुझसे
आप कहते हैं कोई बात नहीं
Zindagi cheen li gai mujhse
aap kahte hain koi baat nahin.

Bewafa shayari in Hindi for Love

Bewafa shayari in Hindi for Love

भूलना था तो ये इकरार किया ही क्यों था,
बेवफा तुने मुझे प्यार किया ही क्यों था.
Bhoolna tha to ye iqraar kiya he kyon tha,
Bewafa toone mujhey pyar kiya he kyon tha. 

फूल के साथ कांटे भी नसीब होता है.
ख़ुशी के साथ ग़म भी नसीब होता है.
मज़बूरी ही ले डूबती है हर आशिक़ को,
वार्ना ख़ुशी से बेवफा कौन होता है.
Phool Ke Sath Kaanta Bhi Naseeb Hota Hai.
Khushi Ke Sath Gham Bhi Naseeb Hota Hai. 
Majburi He Le Doobti Hai Har Aashiq Ko,
Varna Khushi Se Bewafa Kaun Hota Hai.

उसको फ़ुर्सत ही नहीं दुनियां से 
वो जो एक सख्स मेरी दुनियां है.
Usko fursat he nahin duniyan se 
wo jo aik sakhs meri duniyan hai.

Bewafa shayari in hindi for girlfriend

Bewafa shayari in hindi for girlfriend

ये जो मोहब्बत में तीसरा होता है
मुझे उस तीसरे से नफरत है.
Ye jo mohabbat me teesra hota hai
mujhey us teesre se nafrat hai.

जिन्दगी में प्यार का पौधा लगाने से पहले, 
जमीन परख लेना क्योंकि, हर मिट्टी 
की फितरत में, वफ़ा नहीं होती.
Zindagi me pyar ka paudha lagane se pahle
jameen ko parakh lena kyonki, har mitti
ki fitrat me wafa nahin hoti.

मुर्शिद क्या सुनाएँ हाल ए दिल अपना,
खुद को खुद से बर्बाद किया है.
Murshid kya sunayen hal e dil apna,
Khud ko khud se barbaad kiya hai.

Bewafa Sanam Shayari

Bewafa Sanam Shayari

तेरी बेवफाई का ग़म नहीं,
मगर तू बेवफा है ये दुःख भी कम नहीं.
Teri bewafai ka gham nahin,
Magar too bewfa hai ye dukh bhi kam nahin.

जिनसे थे मेरे नैन मिले, 
बन गए थे ज़िन्दगी के सिलसिले । 
इतना प्यार करने के बाद भी, 
सनम मेरे बेवफा निकले।
Jinase the mere nain mile, 
ban gae the zindagee ke silasile . 
Itana pyaar karane ke baad bhee, 
sanam mere bewafa nikale.

कह दिया उसने मुझको ही बेवफा,
मुझे छोड़ने के लिए कोई बहाना न मिला.
Kah diya usne mujhko hee bewafa,
mujhey chhodne ke liye koi bahana na mila.

Bewafai ki Shayari

Bewafai ki Shayari

पहले इश्क फिर धोखा फिर बेवफाई 
बड़ी तरतीब से एक सख्स ने तबाह किया मुझे 
Pahale ishq fir dhokha fir Bewafai 
Badi tartib se ek sakhs ne tabaah kia mujhe.

भुला दूंगा तुम्हे भी थोड़ा सबर रखना 
तुम्हारी तरह बेवफा होने में थोडा वक्त लगेगा
Bhula dunga tumhe bhi thoda sabar rakhna.
Tumhari tarah bewafa hone mein thoda waqt lagega.

मोहब्बतें पनाह मांगती हैं,
लोग इस क़दर बेवफा हैं आजकल.
Mohabbaten panaah mangti hain,
Log is qadar bewafa hain aajkal.

कोई नहीं याद रखता वफ़ा करने वालों को,
मेरी मनो बेवफा हो जाओ ज़माना याद रखेगा.
Koi nahin yaad rakhta wafa karne walon ko,
Meri mano bewafa ho jao zamana yaad rakhega.