www.poetrytadka.com



किस्मत शायरी

किस्मत शायरी | kismat shayari | नसीब शायरी | naseeb shayari

mat kar hisab mere pyar ka

mat kar hisab mere pyar ka

मत कर हिसाब मेरे प्यार का,कही ऐसा ना हो की....बाद में तू ही कर्जदार निकले

uske bina mar jayenge

uske bina mar jayenge

कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे 

हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे 

वो तरस जायेंगे प्यार की एक बून्द के लिए 

हम तो बादल है प्यार के किसी और पर बरस जायेंगे 

log kahte hai har dard

log kahte hai har dard

लोग कहते है हर दर्द की एक हद होती है

मोहब्बत की हद्द है सितारों से आगे;

प्यार का जहाँ है बहारों से आगे;

वो दीवानों की कश्ती जब बहने लगी;

तो बहते बह गई किनारों से आगे

pyar ho jata hai

pyar ho jata hai

खूबिओं से नहीं होती मोहब्बत भी सदा,

कमियों से भी अक्सर प्यार हो जाता है 

log kahte hai

log kahte hai

 

लोग कहते हैं,जो दर्द देता है, वही दवा देता है,

पता नहीं,फ़िज़ूल की बातों को,कौन हवा देता है