Poetry Tadka

Hindi Poetry

Hindi Poetry Zindagi

zindagi Me Sabse Jyada Dukh Bita Huaa Sukh Deta Hai !!

Teri Chahat

तेरी चाहत तो मुकद्दर है मिले ना मिले !

पर राहत जरुर मीलती है तुम्हे अपना सोचकर !!

Dard Ishq Ke Liae

काश किताबो में भी ये ज्ञान होता  !

के दर्द इ इश्क़ के लिए भी कोई इंतज़ाम होता !!

Aaj Ki Duniya Ne

क्या ख़ाक तरक़्क़ी की आज की दुनिया ने !

मरीज़-ए-इश्क़ तो आज भी लाइलाज बैठे हैं !! 

Hamari Adhuri Kahani

कुछ कहानियाँ अक्सर अधूरी रह जाती है !

कभी पन्ने कम पड़ जाते है,कभी स्याही सुख जाती है !!

Ek Baat Kahoon

अगर तू वजह न पूँछे तो एक बात कहूँ !

बिन तेरे अब हमसे जिया नहीं जाता !!

Hindi Poetry

बहुत तड़पाया है किसी की बेबस यादों ने !

ऐ ज़िंदगी खत्म हो जा अब और तड़पा नहीं जाता !!

Dard Milta Hai

मज़िल-ए-मोहब्बत ना पूछो मेरे दोस्त !

बस दर्द, ही दर्द, बस दर्द मिलता है  !!