Poetry Tadka

Two Line Shayari

Apne Hi Hote Hai Jo Dil Pr

अपने ही होते है जो दिल पर वार करते है !
गैरों को क्या खबर दिल किस बात पर दुखता है !!

Abhi Ummid Baki Hai

अभी उम्मीद बाकी है कि वो बिछडा हुआ साथी !
किसी भी मोड पर मिल कर हैरान कर देंगा !!

Ye Tazurba Huaa

ये तजुर्बा भी हुआ है, बुझे चिरागो से !
के हर अंधेरा हमे देखना सिखाता है !!

Hairan Tum Naa Hona

हैरान तुम ना होना उस के फैसले पर !
कब उस ने कहा था के धोखा नहीं देंगा !!

Chota Sa Ek Mzar

युं मेरे साथ दफन दिले बेकरार हो !
छोटा सा एक मजार के अंदर मजार हो!!

Fikr Bhut Karti Hai

आज यकीन हो गया 'साहब', हमको उनकी वफाओं का !
वो मुझसे इश्क़ तो नहीं करती , फिक्र बहुत करती है !!

Huae Badnam Mgar

हुए बदनाम मगर फिर भी न सुधर पाए हम !
फिर वही शायरी, फिर वही इश्क, फिर वही तुम !!

To Samajh Lena

जब तेरे लम्हे न गुज़रें मेरे बिन तो समझ लेना !
टूटकर चाहा था किसी ने इस नफरत भरे जहाँ में !!

Naa Jane Unka Waqt

ना जाने उनका वक्त आज कहाँ गुजरता है !
जिनके लिए वक्त से भी ज्यादा कीमती थे हम !!

Aap Bhi Sje Rahna

उदास चेहरे कोई भी नहीं पढ़ा करता !
नुमाइशों की तरह आप भी सजे रहना !!