www.poetrytadka.com

Munshi Premchand

कला केवल यथार्थ की नक़ल का नाम नहीं है !

कला दिखती तो यथार्थ है पर यथार्थ है पर यथार्त होती नहीं !

उसकी खूबी यहीं है की यथार्थ मालूम हो !

मुंशी प्रेमचंद के अनमोल वचन और सुविचार वो भी 

हिंदी में सिर्फ और सिर्फ पोएट्री तड़का डॉट कॉम पर !!

Munsi Prem Chand quote in hindi

munsi-prem-chand-quote-suvichar-in-hindi
धन खोकर अगर हम अपनी आत्मा को पा सकें तो यह कोई महंगा सौदा नहीं !!

Aatma ki shanti

विपत्ति से बढकर अनुभव सीखने वाला विद्यालय आजतक नहीं खुला !!

Vipatti ka Anubhav

मासिक बेतन पूरनमासी का चाँद है, जो एक दिन दिखाई देता है!
और घटते-घटते खत्म हो जाता है!
मुंशी प्रेमचन्द्र के अनमोल विचार और वचन पोएट्री तड़का डॉट कॉम पर !!

Masik Betan

masik-betan

कविता सच्ची भावनाओं का चित्र है, और सच्ची भावनाएं चाहे सुख़ की हो या दुःख की, उसी समय संपन्न होती है जब हम सुख या दुःख का अनुभव करते हैं !!

Kavita sachchee bhaavanaon ka chitr hai

kavita-sachchee-bhaavanaon-ka-chitr-hai