www.poetrytadka.com

kavita sachchee bhaavanaon ka chitr hai


कविता सच्ची भावनाओं का चित्र है, और सच्ची भावनाएं चाहे सुख़ की हो या दुःख की, उसी समय संपन्न होती है जब हम सुख या दुःख का अनुभव करते हैं !!

Munshi Premchand