www.poetrytadka.com

Romantic Shayari

Kabhi kagaj pe likha tha

कभी काग़ज़ पे लिखा था तेरा नाम अनजाने में !

उससे बेहतर नज़्म, फिर कभी लिख नहीं पाया !!

Mujhko to hosh nahin

Mujhko to hosh nahin

मुझको तो होश नहीं तुमको खबर हो शायद !

लोग कहते है की तुमने मुझे बर्बाद कर दिया !!

Gar too itni pyari na hoti

Gar too itni pyari na hoti

मुझे ये दिल की ‪‎बीमारी‬ ना होती अगर तू इतनी.‪प्यारी‬ ना होती !!

 

Mulakaat Shayari

मुलाक़ात हो आपसे , 
कुछ इस तरह हमारी…..
सारी उम्र बस एक, 
मुलाक़ात में गुज़ार लूँ……

 
 
 

Teri tssweer thi in aankhon me

Mujshe mat puch ki kyun 
aankhein jhuka li maine.. 
Teri tasveer thi in aankhon mein 
woh tujhi se chhupa li maine..