www.poetrytadka.com

One Line Shayari

Main Hun Na

कभी सोचा न था की वो भी मुझे तनहा कर जायेगा!
जो अक्सर परेशान देखकर कहता था.... मैं हूँ न !!!!!

Mujhko mujhme

मुझको मुझमे जगह नहीं मिलती, वो है मौजूद मुझमे इस कदर !!

GalatFahmi

सिर्फ हम हैं उनके दिल में, ले डूबी ये गलतफहमी हमको !!

Tum Bin Koi Nahin

तुम बिन नहीं है कोई भी हमारा इस बात का फ़ायदा उठाते हो न तुम !!

Ishq ke nashe mein doobe to

Ishq ke nashe mein doobe to
ishq ke nashe mein doobe to ye jaana hamane faraaz, kee dard mein tanhaee nahin hotee, tanhaee mein dard hota hai