www.poetrytadka.com

Intezaar Shayari

Kiska kroo intezaar

क्या माँगु खुदा से आप को पाने के बाद

किसका करू इंतेज़ार ज़िंदगी मे आपके आने क बाद

क्यू प्यार पे जान लूटते हैं लोग,

आज मालूम हुआ हैं आप को पाने के बाद.

Intezaar karenge un plo ka

intezaar karenge un plo ka

इन्तज़ार करेंगे उन पलो का हम भी बेचैनी से जब तेरे फ़ैसले तुझ तडपायेंगे बहुत

Pyar bhi hum kare

pyar bhi hum kare

प्यार भी हम करें, इन्तजार भी हम, जताये भी हम और रोयें भी हम

Meri brabri

meri brabri

मेरी बराबरी ना कर दोस्त,मेरे स्टेटस का  इन्तजार तो तेरी वालीभी करती है!

Dua kabhi khali nahi jati

dua kabhi khali nahi jati

दुआ कभी खाली नही जाती 

बस लोग इन्तजार नही करते