www.poetrytadka.com



🥺 Emotional shayari

tera deewana kahta hai

सिर्फ तूने ही कभी मुझको अपना न समझा !

जमाना तो आज भी मुझे तेरा दीवाना कहता है !!

 

humne shocha tha

हमने सोचा था की बताएंगे सब दुःख दर्द तुमको !

पर तुमने तो इतना भी न पूछा की खामोश क्यों हो !!

Wo dard he kya

वो दर्द ही क्या जो आँखों से बह जाए!
वो खुशी ही क्या जो होठों पर रह जाए!
कभी तो समझो मेरी खामोशी को!
वो बात ही क्या जो लफ्ज़ आसानी से कह जायें!

 

Wo dard he kya emotional shayari 

kagaz pe utar leta hoo

मैं अपनी सुबह शाम यूँ ही गुजार लेता हूँ !

जो भी ज़ख्म मिलते हैं कागज़ पे उतार लेता हूँ !!

ishq ka apna ek trana hai

इश्क दो जिंदगी का अफसाना हैं !

इश्क का अपना ही एक तराना हैं !

पता हैं सब को मिलेंगे सिर्फ आंसू ! 

पर न जाने दुनियाँ में हर कोई क्यूँ इश्क का ही दीवाना हैं !!