Emotional shayari

koi mohabbat me mar gya

कोई शोलो मे जल गया !
कोई जमी मे उतर गया !
अजब है दस्तूर इस मोहब्बत का !
किसी को मोहब्बत ने मार दिया !
कोई मोहब्बत मे मर गया !!

kal ki trah

एक उम्र बीत चुकी है...तुझे चाहते हुए !
और तू आज भी बेखबर है..कल की तरह !!

zi bhar ke so lenge

मुकद्दर में नहीं हैं नींदे तो क्या हुआ !
मौत तो आनी है एक दिन जी भर के सो लेंगें !!

nafrat karni ho to

नफ़रत करनी हो तो इस कदर करना मुझसे !
मै दुनियाँ से जाएँ और तेरी जुबां पर लफ्ज़-ए-शुकर हो !!

lout aana

लोग समजते हे की में तुम्हारे हुस्न पे मरता हूँ !
अगर तुम भी यही समजते हो तो सुनो !
जब हुस्न खोदो तब लौट आना !!

bas apne dil ka haal likhta hoon

हम अपने जखमो की नुमाइश नही करते !
बो तो बस अपने दिल का हाल लिखता हु !!

achcha hona buri baat

डाली से तोड़े गए फूल ने हँस कर ये कहा !
अच्छा होना भी बुरी बात है इस दुनिया में !!

mhak utni hi bikhri

इलाइची के दानो सा मुक़द्दर है अपना !
महक उतनी ही बिखरी पीसे गए जितना !!

zra si mohabbat

तमाम नींदे गिरवी हैं उसके पास !
ज़रा सी मुहब्बत ली थी जिनसे !!

itni mithi naa boliae

इतना मीठा ना बोलिये जनाब !
याद आ जाते है वो फरेब के दिन !!