www.poetrytadka.com



Dil ki Baat

dil ki baat, दिल की बात शायरी के साथ, dil ki baat shayarana andaz

chubhte hai dil ki baat

chubhte hai dil ki baat
टूटे तो बड़े चुभते है - क्या काँच क्या रिश्ते

dil thak jate

dil thak jate

रिश्ते और रास्ते तब खत्म हो जाते है 

जब पाँव नही दिल थक जाते है

Jeena Sikha Do

चेहरे की हंसी से गम को भुला दो

कम बोलो पर सब कुछ बता दो

ख़ुद ना रूठो पर सबको हंसा दो

यही राज है जिन्दगी का

जियो और जीना सिखा दो

dekhne ki hasrat

अब तेरी कोई वजह नही यहां रहने की

चल छोड सब को, तेरी सरहद आ गई गम सहने की

मैं आपकी नज़रों से नज़र चुरा लेना चाहती हूँ,

देखने की हसरत है बस देखते रहना चाहती हूँ

 

afsana dil ka

होंठ कह नहीं सकते जो फ़साना दिल का

शायद नज़रों से वो बात हो जाए

इस उम्मीद से करते हैं इंतज़ार रात का

कि शायद सपनों में ही मुलाक़ात हो जाए