www.poetrytadka.com

Birthday Status

Samundar ki lahre

ना जाने क्या कहा था डूबने वाले ने समंदर से  !

लहरें आज तक साहिल पे अपना सर पटकती हैं !!

Fasle kharab ho rhi hai

fasle kharab ho rhi hai

गाव छोड़ कर आया हूँ फिक्र वहा भी है फिक्र यहा भी है !

वहा फसले ख़राब हो रही है यहा नश्लें खराब हो रही है !!

Masla yeh bhi hai

masla yeh bhi hai

masla yeh bhi hai es zalim duniya ka

koi agar accha bhi hai to wo accha kyu hai

Best on poetrytadka

best on poetrytadka

Khubsoorat palo ki mhak

khubsoorat palo ki mhak

कुछ खूबसूरत पलों की महक सी हैं तेरी यादें !

सुकून ये भी है कि ये कभी मुरझाती नही !!