www.poetrytadka.com

Bhojpuri Shayari

Bhojpuri shayari

bhojpuri shayari

हर हवा के झोंखा तुफान ना होला.

सब पत्थर भगवान ना होला.

आदमी त बहुत बा दुनिया में लेकिन,

हर आदमी इंसान ना होला.

Bhojpuri tu rooth jaibu

bhojpuri tu rooth jaibu

तू रूठ जइबू त हम जीयब कईसे !
फाटल करेजवा के सीयब कईसे !
तूही त हउ हमार सोना के सुराही !
तुही फूट जइबू त पनिया पियब कईसे !!