www.poetrytadka.com

Bharosa Shayari

Bharosa he kuch aisa tha

निगाहों में अभी तक दूसरा कोई चेहरा ही नहीं आया

भरोसा ही कुछ ऐसा था तुम्हारे लौट आने का

Bharosa shayari

भरोसा मत करना इस दुनिया के लोगो पर।

मुझे तबाह करने वाले मेरे बहुत अजीज थे ।।

सबसे बेस्ट शायरी Click Here