Aansu shayari

aansu shayari, आँसू शायरी, rula dene wali shayari

lelo wapas wo aansoo

ले लो वापिस वो आँसू, वो तड़प, वो यादें सारी !
नहीं कोई जुर्म मेरा तो फिर ये सजाएँ कैसी !!

ek beti hi jaan sakti hai

हमसफ़र कितना ही सच्चा और प्यारा क्यों ना हो !
बाबुल के घर से बिछड़ने का दुख एक बेटी ही जान सकती है !!

lelo wapad ye aansoo

ले लो वापस, ये आँसू ये तड़प और ये यादें सारी !
नहीं हो तुम अगर मेरे, तो फिर ये सज़ाएं कैसी !!

itna roya meri mut pe

इतना रोया मेरी मौत पे मुझे जगाने के लिए !
मे मरता ही क्यूं अगर वो रो देता मुझे पाने के लिए !!

aansoo kisi khas ke liae hote hai

आँसू मुस्कुराहट से ज्यादा अच्छे होते है जानते हो क्यूँ !
क्यूँकि मुस्कुराहट सभी के लिये होती है !
और आँसू किसी खास के लिये होते है !!

hme feec diya

हमें तो फेक दिया उसने खराब कह कर !
अब रोती हे पगली मेरे lafzo को अलफाज कह कर !!

bas ek pyar hi naa mila

जैसे निकलती है हवा सूखे पत्तो से !
वैसे ही आँखो से ख्वाब होकर निकलते गये !
बिना माँगे ही दुख मिला हैं बहुत ए रब्बा !
बस एक प्यार ही ना मिला जो हम माँगते रहे !!

wo kahti hai

वो कहती है, अचानक मैं तुम्हे यूँ ही रुला दूँ तो !
मैं कहता हूँ , मुझे डर है के तुम भी भीग जाओगी !!

himmat itni thi

हिम्मत इतनी थी समुन्दर भी पार कर सकते थे !
मजबूर इतने हुए कि दो बूँद आँसुओं ने डुबो दिया !!

yado me zhar mila diya

दर्द दे कर इश्क़ ने हमे रुला दियाजिस पर मरते थे !
उसने ही हमे भुला दिया. हम तो उनकी यादों में ही जी लेते थे !
मगर उन्होने तो यादों में ही ज़हेर मिला दिया !!