www.poetrytadka.com

Zindagi me kuch gam jaroori hai

Last Updated

ज़िन्दगी में कुछ गम जरुरी है

वर्ना खुदा को कौन याद करता

 

मिलता नसीब चाहने से तो

खुदा से फरियाद कौन करता

 

होता सुकून हर निगाह में तो

खुदा का दीदार कौन करता