www.poetrytadka.com

yhi hmari jaan hai

तुम्हारे चैहरे पर, ये जो मुस्कान हैं.क्या कहें, यही तो हमारी जान हैं !!