www.poetrytadka.com

Ye zaroori to nahin

जिसकी याद में हम पल पल जी रहे हैं !
हमें वो सोचता भी हो , ये ज़रूरी तो नहीं !!