www.poetrytadka.com

Ye Gajab ki raat

ये गज़ब की रात...ये ठण्डी हवा का आलम,
हम भी खूब सोते अगर उनकी बाहों में होते!