www.poetrytadka.com

Ye chand lamho ki bakrari mohabbat nahi

Last Updated
अगर इश्क़ करो तो अदब-ए-वफ़ा बी सीख लो !
ये चाँद लम्हों की बेक़रारी मोहब्बत नहीं होती !!