www.poetrytadka.com

Yaad rahte hai aaj bhi

याद रखते है हम आज भी उन्हें पहले की तरह !
कौन कहता है फासले मोहब्बत की याद मिटा देते है !!