www.poetrytadka.com

wo zindagi zindagi hi kya

वो जिन्दगी,जिन्दगी ही क्या जिसमे तुम ना हों !
वो दर्द ,दर्द ही क्या जिसमे हम ना हों !!