www.poetrytadka.com

wo kagaz aaj bhi

Last Updated

वो कागज आज भी मुझे फूलो की तरह लगता है 

जिसपे तुमने लिखा था मुझे तुमसे मोहब्बत है 

wo kagaz aaj bhi