www.poetrytadka.com

Tumhari khushiyon ke

Last Updated

तुम्हारी खुशियों के ठिकाने बहुत होंगे मगर

हमारी बेचैनियों की वजह बस तुम ही हो