www.poetrytadka.com

tum bin

tum bin

तुम बिन साँस तो आती है 

मगर ज़िंदगी महसूस नहीं होती!