www.poetrytadka.com

tum bhi

tum bhi

आख़िर तुम भी उस आइने की तरह ही निकले !

जो भी सामने आया तुम उसी के हो गए !!