www.poetrytadka.com

Tujhey bhulaane ki koshish

तुझे भूलने की बहुत कोशिश की मगर तेरी यादें !
गुलाब की वो साख हैं जो रोज़ महकती हैं !!