www.poetrytadka.com

Majboori Shayari

Poetry tadka Majboori Shayari colection on लाचारी शायरी in Hindi. So go below and read latest मजबूरी शायरी.

Majboori Shayari in Hindi

Majboori Shayari in Hindi

किसी की मजबूरी कोई समझता नहीं
दिल टूटे तो दर्द होता है 
मगर कोई कहता नहीं !!

No one understands someone's Majboori.
Heart hurts when broken,
But no one says.

Majburi Shayari in Hindi

Majburi Shayari in Hindi

जिंदगी में कभी-कभी कुछ ऐसे रास्ते भी आते हैं  
जंहा से गुजरना सिर्फ़ और सिर्फ़ मजबूरी होती हैं !!

Sometimes in life there are some such paths,
Where passing is only and only Majburi !!

Kud bhatak rha hoon

kud bhatak rha hoon
मै क्या किसी को रास्ता दिखाऊंगा
मै तो खुद भटक रहा हूँ मंजिल की तलाश में

Smajh me aajate hum

smajh me aajate hum
तसल्ली से पढा होता तो समझ मे आ जाते हम
कुछ पन्ने. बिना पढे ही पलट दिये होग तुमने

Wo hme ek lahma

wo hme ek lahma

लोग आपकी मजबूरी समझते हैं, 
तभी तो उसका फायदा उठाते हैं।

People understand your Majburi ,
Only then do they take advantage of it.