जान शायरी

Jaan shayari | jaan shayari Hindi | जान शायरी 

chand ki baaten jaan shayari

chand ki baaten

लगती हैं हमें अपनी ये तौहीन की तरह
तुम रूबरू न चाँद की बातें किया करो

Share via Whatsapp
jaan shayari bol kya chahiye

bol kya chahiye

नसीब ने पूछा..बोल क्या चाहिए
ख़ुशी क्या मांग ली, खामोश हो गया

Share via Whatsapp
jaan se bhi pyare

jaan se bhi pyare

हर सागर के दो किनारे होते है
कुछ लोग जान से भी प्यारे होते है
ये जरूरी नही हर कोई पास हो
क्युकी ज़िन्दगी में यादो के भी सहारे होते है

Share via Whatsapp
jaan shayari in hindi

jaan shayari in hindi

ज़िन्दगी के लिए जान जरूरी है
पाने के लिए अरमान जरूरी है
हमारे पास चाहे कितना ही गम
पर आप के चेरे पे मुश्कान जरूरी है

Share via Whatsapp

wo kahne lagi

लगता है उसकी ख़ुद से ही पहचान नहीं है​
​अब कहने लगी है के वो मेरी जान नहीं है​

Share via Whatsapp

pyar ho jaye shayari

लगे बेचैन सा दिल जब किसी से
प्यार हो जाए
बिन दीदार के दिल को कही भी
चैन ना आए.
दिन भी याद मे राते भी यादो मे
गुज़रती है.
किसी का प्यार ही जब ज़िन्दगी और
जान बन जाए

Share via Whatsapp

tumhare bina shayari

कह के आ गए उनसे कि जी लेंगे तुम्हारे बिन,
उनके जुदा होते ही मेरी जान पर बन आई है

Share via Whatsapp

use kah do

इससे पहले कि मेरी जान जाये,
ज़रा उनसे कह दो कि मान जाये

Share via Whatsapp

adae rooth jane ki

मेरी सब कोशिशें नाकाम थी
उनको मनानें की...
कहाँ सीखी है #जालिम ने
अदाएं रूठ जाने की..!!

Share via Whatsapp

chahe meri jaan mang lo

प्यार से चाहे सारे अरमान माँग लो
रूठकर चाहे मेरी मुस्कान माँग लो,
तमन्ना ये है कि ना देना कभी धोखा,
फिर हँसकर चाहे मेरी जान माँग लो.

Share via Whatsapp