www.poetrytadka.com



घमंड शायरी

घमंड शायरी, अहंकार शायरी, ahankar shayari, गुरूर शायरी, guroor shayari, Ghamand Shayari

suna ha kafi

सुना है काफी पढ़ लिख गए हो तुम
कभीवो बी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते
suna ha kafi

faasle 2 line shayari

तूने फेसले ही फासले बढाने वाले किये थे
वरना कोई नहीं था, तुजसे ज्यादा करीब मेरे
faasle 2 line shayari

mujhe ghamand tha

मुझे घमंड था की मेरे चाहने वाले बहुत है इस दुनिया में,

बाद में पता चला की सब चाहते है  अपनी ज़रूरत के लिए.

mujhe ghamand tha

mat krna guroor aapne aap pr ae logo

mat krna guroor aapne aap pr ae logo
rab ne naa jane kitne logo ko mitti se bna kr mitti me mila dala mat krna guroor aapne aap pr ae logo

ghamand jis insan ke indar hota

ghamand jis insan ke indar hota hai
uska akal bahar ho jata hai ghamand jis insan ke indar hota