www.poetrytadka.com

Soya rahta hun

में तेरी ज़ुल्फ़ों और आँखो में खोया रहता हु !

बस इसी तरह ज़िंदगी को जीने चाहता हु !!

 

Soya rahta hun