www.poetrytadka.com

Smajhdari

पुरुष समझदारी की चक्की में पिस्ते रहे !

और स्त्रियाँ समझौते की चक्की में !!

Smajhdari