www.poetrytadka.com

Shayari world jazbaat shayari

कुछ तो बात है तेरी फितरत में वरना 

वरना तुझे चाहने की खता बार बार नहीं करते 

shayari world jazbaat shayari