www.poetrytadka.com

reshte aur vishwash dono dost hai

रिश्ते और विश्वास दोनो ही मित्र है। रिश्ते रखो या ना रखो पर विश्वास जरुर रखना, क्योंकि जहां विश्वास होता है, वहां रिश्ते अपने आप बन जाते हैं