www.poetrytadka.com

Pyase wo bhi rah jate hai

कही पर गम तो कही पर सरगम
ये सारे ‪#कुदरत‬ के नज़ारे हैं !
प्यासे तो वो भी रह जाते हैं
जिनके घर ‪‎दरिया‬ किनारे हैं !!