www.poetrytadka.com

kartavy


कर्तव्य कभी आग और पानी की परवाह नहीं करता!!

Munshi Premchand