naa chahte bhi unke hote chale gaae

सपनों की दुनिया में हम सोते चले गये

होश में थे फिर भी मदहोश होते चले गये

जाने क्या बात थी उसके चेहरे में

ना चाहते भी उसके होते चले गये

मुख्य पेज पर वापस जाए