Mujh jaisi mohabbat

तुम एक बार मुझसे मुझ; जैसी मोहब्बत करके तो देखों यार

प्यार उम्मीद से कम हो तो सजा-ए-मौत दे देना

Read More Pyar ki shayari