www.poetrytadka.com

Mohabbat se pahle

ना करवटे थी, ना बैचेनियाँ थी..

क्या गज़ब की नीन्द थी मोहब्बत से पहले

Mohabbat se pahle
सबसे बेस्ट शायरी Click Here