www.poetrytadka.com

Mohabbat ka dikhawa na kar

हमसे मोहब्बत का दिखावा न किया कर !
हमे मालुम है तेरे वफा की डिगरी फर्जी है !!

सबसे बेस्ट शायरी Click Here