www.poetrytadka.com

Meri mobabbat mere dil ki galatfahmi thi

मेरी मुहब्बत मेरे दिल की गफलत थी !
मैं बेसबब ही उम्र भर तुझे कोसता रहा !
आखिर ये बेवफाई और वफ़ा क्या है !
तेरे जाने के बाद देर तक सोचता रहा !!