www.poetrytadka.com

mere alfaaz to

मेरे अल्फ़ाज़ तो चुरा लोगे,ऐं दोस्तों !
मगर मेरे जैसा दर्द भरा दिल कहाँ से लाओगे !!