www.poetrytadka.com

lakh roshan kar lo duniya

लाख रोशन कर लो दुनिया फिर भी मगर अँधेरा है !
जब तक चलेगी ये लड़ाई कि तेरा ज्यादा कम मेरा है !!