www.poetrytadka.com

Kuch aag lgai logo ne

इतने बुरे तो न थे जितने इलज़ाम लगाये लोगो ने !
कुछ मुक्क़दर बुरे थे कुछ आग लगाई लोगों ने !!