www.poetrytadka.com

ksoor kya tha

पुरी दुनिया से चुरा कर मुझे अपना बनाने वाली!
कसुर क्या था मेरा जो तन्हा छोड़ गयी !!