www.poetrytadka.com

kitni door bsali basti

kitni door bsali basti
रो रो के कह दिया मेरे पैर के छालो ने !
कितनी दूर बसा ली बस्ती दिल में बसने वालो ने !!