www.poetrytadka.com

kitna sasta dwa hai

याद कर लेता हूँ आपको और ‪सुकून ए दिल‬ मिल जाता है !
कितना सस्ता है दवा यारों मेरे बेचैनी का !!