www.poetrytadka.com

Khi hokar bhi naa hoon

कहीं होकर भी नहीं हूँ, कहीं न होकर भी हूँ

बड़ी कशमकश में हूँ कि कहाँ हूँ और कहाँ नहीं हूँ

सबसे बेस्ट शायरी Click Here