www.poetrytadka.com

jo ud gaye parindey

jo ud gaye parindey
जो उड गये परिंदे उनका क्या अफसोस करें
यहां तो पाले हुए भी गैरों की छतों पर उतरते हैं
लेटेस्ट शायरी, latest shayari, latest hindi shayari, लेटेस्ट हिंदी शायरी