www.poetrytadka.com

jibharke pyar kroo

आंखां के समंदर को मैं आंखों से पार करूं !
बाहों में लेके तुझे जी भर के प्यार करूं !
भीगे तेरे होंठ से मै नजरे चार करूं !
होठों से छूलू तेरे होठों का सिंगार करूं !!